सुषमा सोरेंग की जीवित गवाही

                  सुषमा सोरेंग की जीवित गवाही

मै सुषमा सोरेंग ग्राम:- नैगोम टोली ,सिमडेगा,झारखण्ड का रहने वाली हूँ, मै २१/०४/२००६ प्रभु यीशु को अपना उद्धारकर्ता ग्रहण की और प्रभु के दास पास्टर अंजोर सोरेंग के द्वारा यीशु मसीह का बपतिस्मा ली | हमारे जिले में मुख्यत आदिवासी जनजाति के लोग रहते हैं, जिनकी बोली अधिकतर सादरी भाषा बोली जाती हैं, प्रभु का धन्यवाद हो की मेरी सेवा सादरी बोली लोगो के मध्य में हैं, मै सिमडेगा ब्लाक में सेवा करती हूँ, और इस बोली में बाईबल नया नियम का अनुवाद करने हेतु यह अवसर मुझे ओप्रेसन अगापे द्वारा वर्ष 2015 में मिली जिस कार्य के लिए हमने एक समुह बनाई और मुझे भाषा सलाहकार नियुक्त किया गया | अनुवाद का कार्य को आरम्भ किया, अनुवाद के समयकाल में कुछ परेशानियों का भी सामना करना पड़ा फिर भी प्रभु ने इस कार्य को पूरा किया और अक्टूबर 2016 को सादरी भाषा में बाईबल का नया नियम हमें प्राप्त हुई, प्रभु का धन्यवाद हो जब सादरी बाईबल नया नियम को मेरी कलीसिया के लोगों ने पढ़ा, तो उन्हें बहुत ही खुशी हुई और उन्हें जो वचन हिन्दी बाईबल पढाई के द्वारा समझ में नहीं आती थी, सादरी नया नियम बाईबल पढाई से उन्हें सभी कठिन वचन सरलता से समझ में आती हैं, और उन्हें आत्मिक उन्नति भी हो रही हैं, वे लोग प्रार्थना भी करना आरम्भ कर दिया हैं, प्रभु का धन्यवाद हो मुझे यह लिखते हुए बहुत खुशी हो रही हैं कि हमारी मेहनत असर कर रही हैं और प्रभु का कार्य पूरा हो रहा हैं | आमीन | |

अत: मेरी सादरी टीम एवं मेरी कलीसिया और मेरी परिवार के लिए प्रार्थना करे | |

                                                            ||आमीन | |